दरभंगा में एयरपोर्ट व रेलवे स्टेशन पर मखाना काउंटर खोलने को मिली हरी झंडी

मिथिला की पहचान मखाना को विश्व स्तर पर फैलाने की प्रशासनिक कोशिशों के बीच अब जिले के एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन के अलावा समाहरणालय परिसर में विशेष काउंटर लगाए जाएंगे। एयरपोर्ट व रेलवे की ओर से काउंटर लगाने के लिए सहमति मिल गई है। सहमति मिलने के साथ प्रशासनिक स्तर पर जिले के उद्यमियों से आवेदन मांगा गया है। बड़ी संख्या में स्थानीय उद्यमियों ने इसके लिए आवेदन दिया है। उनमें कई सामान्य तो कुछ बड़े उद्यमी शामिल हैं। प्रशासनिक स्तर पर सभी की ओर से आए आवेदनों की जांच की जा रही है। देखा जा रहा है कि काउंटर लगाने में कौन सक्षम है। काउंटर उसे ही दिया जाना है, जिसके पास सिर्फ और सिर्फ मखाना का ही उत्पाद हो। काउंटर का इंतजाम करने के पीछे मूल उद्देश्य यह है कि किसी भी स्थिति में एक बार खुलने के बाद मखाना काउंटर का लगातार विकास हो।

बताते हैं कि वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट के तहत मखाना के लिए सम्मानित होने के बाद जिलाधिकारी राजीव रौशन लगातार इस उद्योग को आगे बढ़ाने के लिए नित्य नए प्रयोगों को बढ़ावा देने में लगे हैं। इसके तहत प्रशासनिक टीम गांवों में जाकर मखाना व्यवसाय से जुड़े उद्यमियों को ट्रेनिंग दे रही है। व्यवसायियों को दी जा रही ट्रेनिंग के बाद की उपलब्धियों को भी डीएम स्वयं के स्तर पर देख रहे हैं। नवाचार के तहत सामान्य व फ्लेर्वड मखाना की बिक्री के साथ-साथ जिले में मखाना की मिठाई और बिस्किट आदि का निर्माण होने लगा है।

पिछले दिनों जिला स्तर पर हुई मखाना उद्यमियों की बैठक में उद्यमियों ने इस बात को प्रशासनिक अधिकारियों के सामने रखा था कि एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन व समाहरणालय परिसर में उद्योग के विस्तार के लिए शो-केस काउंटर लगाने के लिए स्थान दिया जाए। उपरोक्त सुझाव के बाद प्रशासनिक स्तर पर कवायद की जा रही है। उम्मीद की जा रही है कि शीघ्र ही जिले के प्रमुख चिह्नित स्थानों पर मखाना काउंटर के जरिए, इसके उत्पादों की ब्रांडिंग व बिक्री का काम शुरू हो जाएगा।

जिलाधिकारी राजीव रौशन ने कहा, जिले में मखाना उद्योग को बढ़ाने के लिए लगातार प्रयास चल रहा है। जिले के सभी उद्यमियों को जरूरी प्रशासनिक सहयोग किया जा रहा है। सरकार के स्तर पर उद्योग को बढ़ावा देने के लिए संचालित योजनाओं को बड़ी तेजी से लागू किया गया है। इस बीच मखाना का ज्यादा से ज्यादा प्रचार-प्रसार हो, इसके लिए एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन के अलावा समाहरणालय में भी काउंटर लगाया जाना है। रेलवे व एयरपोर्ट से सहमति मिल गई है। शीघ्र ही संबंधित स्थान का किराया तय करने को लेकर बैठक होगी।

इनपुट दैनिक जागरण

Leave a Reply

Your email address will not be published.