मुजफ्फरपुर में घर से नहीं निकले प्रदर्शनकारी धारा 144 लागू इंटरनेट सेवा पूरी तरह बंद चप्पे-चप्पे पर पुलिस फोर्स तैनात

देश भर में सेना अभ्यर्थियों और विभिन्न संगठनों द्वारा किये जा रहे हिंसा और उपद्रव का असर मुजफ्फरपुर में देखने को मिल रहा है। प्रशासन ने एहतियातन जिले भर की इंटरनेट सेवा बाधित करते धारा 144 लागू कर दिया है। जिसके चलते बाजार में काफी भीड़ देखी रही है। मार्केट में भी काफी हाफ तक बंद ही है। प्रशासनका आदेश है कि अगर एक जगह पर पांच से अधिक लोग जमा होने तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि आज बिहार बन्द का एलान किया गया था। जिले में भगवानपुर बैरिया जीरो माइलसमेत अन्य चौक चौराहों पर जाम करने की सूचना थी। लेकिन, पुलिस प्रशासन की मुसौदी के कारण प्रदर्शनकारी घरों से नहीं निकले है।

बंद का नहीं दिखा असर

शहर या ग्रामीण इलाकों में अबतक कहीं भी जाम नहीं किया गया है। प्रशासनिक और पुलिस अधिकारी खुद मॉनिटरिंग कर रहे हैं। शहर के सभी प्रमुख चौक चौराहों पर पर्याप्त में पुलिस फोर्स की तैनाती है। अतिरिक्त बल को भी स्टैंडबाई पर रखा गया है। वरीय अधिकारी खुद शहर का ज रहे हैं। बता दें कि मुजफ्फरपुर में दो बार सेना अभ्यर्थियों ने प्रदर्शन और सड़क जाम किया था। जिसके बाद शुक्रवार को SSP जयंतकांत को खुद मोर्चा संभालना पड़ा। उपद्रवियों पर लाठीचार्ज कर खदेड़ दिया गया 15 उपद्रवियों को हिरासत में लिया गया है।

हॉस्टलों में उपद्रवियों की तलाश

DM प्रणव कुमार ने कहा कि जिले में अबतक शांतिपूर्ण माहौल है। हमलोग खुद मॉनिटरिंग कर रहे हैं। धारा 144 लगाई गई है। इसका कोई भी उल्लंघन करेंगे तो कानूनी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने अपील करते हुए कहा कि सबलोग शांतिपूर्ण तरीके से रहें। कानून हाथ मे लेने की आवश्यकता नहीं है। SSP जयंतकांत ने कहा कि हिरासत में लिए गए प्रदर्शनकारियों से पूछताछ में कई महत्वपूर्ण जानकारी मिली है। इसी आधार पर कॉलेज और विश्वविद्यालय के हॉस्टलों में रेड किया गया है। लगातार सभी हॉस्टलों पर पुलिस की नजर बनी हुई है। जहां से नही संदिग्ध गतिविधि का पता लग रहा है। वहां तुरन्त कार्रवाई की जा रह है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.