घर में सो रही 17 साल की लड़की पर तेजाब से हमला

बिहार के मुजफ्फरपुर में एक बार फिर एक लड़की एडिस अटैक का शिकार बनी। रात के अंधेरे में बदमाशों ने उसके बदन पर एसिड उड़ेल दिया और फरार हो गए। पीड़िता का कमर से नीचे का हिस्सा बुरी तरह झुलस गया है। गंभीर हालत में उसे एसकेएमसीएच में भर्ती कराया गया है। घटना कुढ़नी के फकुली ओपी के एक गांव में गुरुवार देर रात की है। इस वारदात स पीड़िता और उसके परिजन सदमे में हैं। आरोपी पुलिस की पकड़ से बाहर हैं।

जानकारी के मुताबिक पीड़िता की उम्र 17 साल है। गुरुवार की रात वह अपने कमरे में अकेली सो रही थी। अंधेरे में उस पर अज्ञात बदमाशों ने एसिड डाल दिया। इससे वह गंभीर रूप से जख्मी हो गई। किशोरी के चिल्लाने पर बगल के कमरे में सो रही दादी की नींद खुली।

दादी ने उसके कमरे में जाकर देखा तो पीड़िता किशोरी दर्द से कराह रही थी। आवाज सुनकर दूसरे कमरे से पिता व भाई भी पहुंचे। आनन-फानन में उसे एसकेएमसीएच में भर्ती कराया गया है। वहां उसकी हालत चिंताजनक बतायी गई है। जानकारी मिलने पर फकुली ओपी प्रभारी मोहन कुमार पीड़िता के घर गए,लेकिन घर बंद मिला। ओपी प्रभारी ने बताया कि नींद में होने के कारण किशोरी एसिड फेंकने वाले को नहीं देख सकी। एसकेएमसीएच जाकर पुलिस बयान दर्ज करेगी। किशोरी की मां की मौत हो चुकी है। पिता शहर की एक दुकान में काम करते हैं। उसने10वीं के बाद पढ़ाई छोड़ दी है।

घटना के करण को लेकर कुछ नहीं बताया गया है। परिजन काफी परेशान हैं और कुछ स्पष्ट नहीं बता रहे हैं। वहीं, पुलिस का कहना है कि जबतक पीड़िता लड़की का बयान दर्ज नहीं किया जाता तबतक कुछ नहीं बताया जा सकता।

इनपुट : लाइव हिंदुस्तान

Leave a Reply

Your email address will not be published.