बिहार के इन दो जिलों में मेडिकल कॉलेज के लिए 1207 करोड़ स्वीकृत इलाज की होगी बेहतर व्यवस्था

कोरोना महामारी के बाद प्रदेश में बेहतर स्वास्थ्य सुविधा बहाल करने के प्रयास किए जा रहे हैं। कोविड-19 के दौरान बिहार की स्वास्थ्य व्यवस्था पर कई सवाल खड़े हुए थे। अब राज्य सरकार इस दिशा में विशेष पहल करने जा रही है। इसी के तहत सरकार ने मुंगेर और पूर्वी चंपारण में एक-एक नए मेडिकल कालेज व अस्पताल का प्रस्ताव हाल ही में स्वीकृत किया है। इन दो नए संस्थान के निर्माण पर 1207 करोड़ रुपये की लागत आएगी। इसके अलावा संबंधित जिलाधिकारियों को जमीन चिन्हित करने का निर्देश दिया गया।

मरीजों के लिए उपलब्ध होंगे 630 बेड।

जानकारी के अनुसार दोनों मेडिकल कालेज एमबीबीएस की (MBBS) 150 नामांकन क्षमता के साथ विकसित किए जाएंगे। जबकि यहां मरीजों के लिए कुल 630 बेड होंगे। एक मेडिकल कालेज अस्पताल के निर्माण पर 603.68 करोड़ रुपये की लागत आएगी। बिहार स्वास्थ्य सेवाएं आधारभूत संरचना निगम के प्रस्ताव पर मंथन के बाद स्कीम को प्रशासनिक स्वीकृति दे दी गई है।

उपलब्ध होंगी सभी सुविधाएं।

दोनों संस्थान ग्रामीण क्षेत्र में रहेंगे लिहाजा यहां छात्र-छात्राओं के लिए सभी सुविधाओं के साथ छात्रावास का निर्माण भी किया जाएगा। जबकि अस्पताल में सभी तरह के चिकित्सीय उपकरण, बेड और अन्य फर्नीचर, माडयूलर आपरेशन थियेटर, सभी बेड पर आक्सीजन पाइप लाइन जैसी सुविधाएं भी विकसि‍त की जाएंगी।

Input Patna live news

Leave a Reply

Your email address will not be published.