दसवीं की छात्रा का घर से अपहरण कर गैंगरेप मांग भी भरा

कांटी नगर परिषद के एक मोहल्ले से दसवीं की एक छात्रा का उसके घर से अपहरण कर लिया गया। नशा खिलाकर उसे बेहोशी की हालत में चार लड़के उठाकर ले गए। दूसरे मोहल्ले के एक घर में उसे बंधक बनाकर मांग में जबरन सिंदूर भर दिया। इसके बाद चारों लड़कों ने उसके साथ गैंगरेप किया। लड़की की उम्र करीब 15 वर्ष है। घटना रविवार रात की बतायी गई है। मंगलवार को पुलिस के सामने यह मामला है।

आरोपितों ने मुंह खोलने पर छात्रा के परिवार के लोगों को गोली मारकर हत्या कर देने की धमकी भी दी। छात्रा को भी बेच देने की धमकी। परिजन जब छात्रा की खोजबीन करने लगे तो अहले सुबह उसे मुक्त किया गया जिसके बाद छात्रा को घर लाया गया। उसकी हालत खराब थी। सोमवार को आरोपितों के परिजन ने पीड़ित परिवार को घर से नहीं निकलने दिया। मंगलवार को छात्रा की मां पुत्री को लेकर कांटी थाना पहुंची। छात्रा की मां ने दो नामजद समेत चार युवकों के खिलाफ आवेदन दिया है।

थानाध्यक्ष संजय कुमार ने बताया कि मामले में पॉक्सो एक्ट के तहत एफआईआर की गई है। नगर परिषद के एक मोहल्ले के दीपक कुमार व संजीत कुमार समेत दो अन्य लड़कों को नामजद किया गया है। साथ ही पीड़िता से मारपीट को लेकर दीपक के माता, पिता व बहन को भी नामजद किया गया है। छात्रा को मेडिकल के लिए सदर अस्पताल भेजा गया है। आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। जल्द ही सभी को दबोच लिया जाएगा। पीड़ित परिवार को थाना आने से रोकने वालों को भी चिह्नित किया जा रहा है।

परिवार के लोग गए थे शादी समारोह में

पीड़िता की मां ने पुलिस को दिए बयान में कहा कि आठ मई की शाम साढ़े सात बजे परिवार के लोग पड़ोस में शादी समारोह में गए थे। घर में पुत्री अकेली थी। इसी दौरान चारों आरोपित उसके घर में घुस आए। उसकी बेटी को जबरन नशा खिलाकर बेहोश कर दिया। इसके बाद उसे उठाकर ले गए। फिर माता, पिता व भाई को गोली मारकर हत्या कर देने की धमकी देते हुए आरोपितों में से एक ने जबरन मांग में सिंदूर डाल दिया। इसके बाद चारों ने उसके साथ दुष्कर्म किया।


गंभीर हालत में बेहोश पड़ी थी छात्रा

छात्रा की मां ने बताया कि दीपक व संजीत अपने दो साथियों के साथ उसके घर में घुसा था। दो अज्ञात में से एक लड़का के घर पर छात्रा को लेकर सभी गए। वहां छात्रा के साथ बर्बरता की। आरोपितों ने छात्रा के साथ मारपीट भी की। उसके शरीर पर काफी जख्म थे। बाद में जानकारी मिलने पर जब परिजन वहां पहुंचे तो पीड़िता बेहाश पड़ी हुई थी। उसकी हालत गंभीर थी। कपड़े फटे हुए थे। वहां से परिजन उसे उठाकर घर लाए।

स्कूल जाते वक्त करता था छेड़खानी, तेजाब फेंकने की भी देता था धमकी:

आरोपित दीपक कुमार छात्रा से स्कूल आने-जाने के दौरान भी छेड़खानी करता था। मोबाइल पर बातचीत करने के लिए दवाब बनाता था। छात्रा की मां ने आवेदन में लिखा है कि पड़ोसी चुल्हाई सहनी के यहां दीपक आता था। उसकी बहू व बेटी के माध्यम से छात्रा पर बात करने के लिए दबाव बनाता था। विरोध करने पर तेजाब डालने की धमकी भी देता था। छात्रा की मां ने बताया कि जब लड़की गायब थी तो चुल्हाई सहनी के घर जाकर हंगामा किया। इसके बाद चुल्हाई ने फोन पर बात करने के बाद छात्रा को बंधक बनाकर रखे जाने वाली जगह की जानकारी दी।

इनपुट : लाइव हिंदुस्तान

Leave a Reply

Your email address will not be published.