सहारा इंडिया के निवेशकों के लिए मुफ्त में लड़ेंगे मुकदमा मानवाधिकार अधिवक्ता ने खोला मोर्चा कहा नहीं दे रहा पैसा तो हमसे आकर मिले

सहारा इंडिया में निवेशकों का लाखों-करोड़ों रूपया फंस चुके है। निवेशक विवश हैं। एजेंट के पास जाते हैं तो वह हाथ खड़ा कर दे रहा है। ऐसे में मुजफ्फरपुर के मानवाधिकार अधिवक्ता एस. के. झा ने सहारा इंडिया के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। वे उन निवेशकों का मुकदमा मुफ्त में लड़ेंगे, जो आर्थिक रूप से मुकदमा लड़ने में सक्षम नहीं है। और जिन्हें निवेश की मैच्यूरिटी पूरी होने के बाद भी सहारा इंडिया द्वारा राशि का भुगतान नहीं किया जा रहा है।

अधिवक्ता SK JHA ने बताया कि वैसे निवेशक जो आर्थिक रूप से कमजोर है, वे कार्यालयों का लगातार चक्कर लगाने के लिए विवश हैं। बावजूद इसके सहारा इंडिया द्वारा उनका पैसा नहीं दे रही है। वे आकर मुझसे संपर्क कर सकते हैं। झा ने कहा कि वे आर्थिक रूप से कमजोर निवेशकों के लिये मुहिम चला रहे है, जिसके तहत वे उनका मुकदमा निःशुल्क लड़ेंगे। अधिकवक्ता के इस निर्णय से निश्चित में निवेशकों में एक उम्मीद की किरण लौटेगी। बता दें कि सहारा इंडिया की आर्थिक स्थिति पूरी तरह चरमराने के कारण निवेशकों का पैसा पूरी तरह फंस चुका है।

Input Danik Bhaskar

Leave a Reply

Your email address will not be published.