बिहार में बड़े राजनीतिक उटलफेर की संभावनाएं ।।
बिहार विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा दिल्ली रवाना कल गृह मंत्री अमित शाह से करेंगे मुलाकात ।।

बिहार विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा दिल्ली के लिए रवाना हो गए हैं. दिल्ली में विजय सिन्हा बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात करेंगे. दरअसल, बिहार विधानसभा में सोमवार को सीएम नीतीश कुमार और स्पीकर विजय कुमार सिन्हा के बीच बहस हुई थी, जिसके बाद आज स्पीकर सदन में भी नहीं पहुंचे थे बीजेपी सूत्र बता रहे हैं कि स्पीकर विजय कुमार सिन्हा जेपी नड्डा से 17 मार्च को उनकी मुलाकात होने की संभावना है. पार्टी के भीतर हो रही चर्चाओं के मुताबिक जेपी नड्डा इस मामले में खुद मध्यस्थता करेंगे. चर्चा तो ये भी है कि विजय कुमार सिन्हा ने मान सम्मान बचाने के लिए इस्तीफा देने तक की बात कह दी है. इसके बाद ही पार्टी आलाकमान एक्टिव हुआ है |


लखीसराय में विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा के साथ दुर्व्यवहार मामले को लेकर विपक्षी दलों और बीजेपी के विधायक लगातार सदन में हंगामा कर रहे थे. ऐसे में सोमवार को सीएम ने सदन में कहा कि मामले में कार्रवाई की जा रही है. बार-बार इस तरह से इस मुद्दे को सदन में उठाना सही नहीं है. हम न किसी को फंसाते हैं और न किसी को बचाते हैं. विशेषाधिकार समिति जो रिपोर्ट पेश करेगी, हम उस पर जरूर विचार करेंगे और देखेंगे की कौन सा पक्ष सही है. इस दौरान सीएम और विधानसभा अध्यक्ष के बीच तीखी बहस हुई थी सीएम ने इस दौरान सदन में कहा था कि सिस्टम संविधान से चलता है. किसी भी क्राइम की रिपोर्ट कोर्ट में जाता है. सदन में नहीं जाता है. कृपया करके ज्यादा मत करिए जो चीज जिस का अधिकार है, उसको करने दीजिए. किसी तरह का भ्रम है तो बातचीत की जाएगी. इस मामले को अकारण आगे बढ़ाने की कोई जरूरत नहीं है. आप संविधान देख लीजिए संविधान क्या कहता है वहीं सीएम के भड़कने के बाद विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा ने कहा था कि कुर्की जब्ती नहीं हुई है. इसका जवाब नहीं दिया जा सका. आप ही बता दें कि सदन कैसे चलेगा, वैसे ही चलाएंगे. सदन में जब प्रश्न आया कि कुर्की जब्ती कब होगी, उसी में एक मामला जोड़ा गया जिसमें सारे विधायकों ने तीन बार हंगामा किया. हमने आग्रह किया कि विशेषाधिकार कमेटी में मामला चल रहा है, उसपर चर्चा नहीं होगी. मामला उठा कि आयोजनकर्ता व उद्घाटनकर्ता की आजतक अरेस्टिंग नहीं हुई है. इस मामले को सरकार ने क्यों गंभीरता से नहीं लिया? पुलिस द्वारा लखीसराय की घटना पर खानापूर्ति की जा रही है. जहां तक संविधान की बात है तो मुख्यमंत्री जी आप हमसे ज्यादा जानते हैं मैं आपसे सीखता हूं |


इनपुट (ईटीवी भारत)

Leave a Reply

Your email address will not be published.