मुजफ्फरपुर उत्तर बिहार का पहला जंक्शन बनेगा जहां निजी एजेंसी संभालेगी पूछताछ केंद्र

पूछताछ केंद्र का जिम्मा जल्द ही निजी एजेंसी के हाथों।

जंक्शन स्थित पूछताछ केंद्र का संचालन का जिम्मा संभालने के लिए आठ निजी एजेंसियां सामने आयीं हैं। सबने पूछताछ केंद्र संचालन के लिए सोनपुर रेल मंडल के वाणिज्य विभाग में आवेदन दिये हैं। आवेदनों का सत्यापन हो रहा है। अक्टूबर की शुरुआत में योग्य एजेंसी को पूछताछ केंद्र के संचालन का जिम्मा सौंपा जाएगा। दुर्गा पूजा के दौरान होने वाली यात्रियों की भीड़ को ख्याल में रख इससे पहले ही पूछताछ केंद्र को हर हाल में निजी एजेंसी के हवाले कर देना है।

इसके लिए सोनपुर रेल मंडल ने छह अगस्त को टेंडर निकाला था। रेलवे हर साल निजी एजेंसी पर लगभग 36 लाख रुपये खर्च करेगा। एजेंसी पूछताछ केंद्र पर पेशेवर समेत 16 कर्मी तैनात करेगी। तीन शिफ्ट में पूछताछ केंद्र का संचालन होगा।

मुजफ्फरपुर पहला उत्तर बिहार का जंक्शन बन जाएगा जहां पूछताछ केंद्र निजी हाथों में होगा। वर्तमान में टिकट जांच करने वाले नौ कर्मी केंद्र की व्यवस्था संभालते हैं। एक कर्मी पर सालाना रेलवे की ओर से चार लाख रुपये खर्च होता है।

फिलहाल पटना समेत दानापुर रेल मंडल के कई जंक्शन पर पूछताछ केंद्र को निजी एजेंसियों के जिम्मे किया गया है। पूछताछ केंद्र को लेकर यात्रियों की ओर से लगातार आ रही शिकायतों को दूर करने के लिए रेलवे ने यह कदम उठाया है।

जंक्शन स्थित पूछताछ केंद्र के संचालन के लिए आठ निजी एजेंसियों के आवेदन मिले हैं। तैयारी अंतिम चरण में है। निजी एजेंसी केंद्र पर पेशेवर को भी तैनात करेगी। अक्टूर के प्रथम सप्ताह में एजेंसी का चयन कर लिया जाएगा।

एके पांडेय, सीनियर डीसीएम, सोनपुर रेल मंडल

इनपुट — हिंदुस्तान

Leave a Reply

Your email address will not be published.