जेल से ही सोना लुटेरा रवि ने अपने गुर्गों को कोर्ड वर्ड में बता दिया था पूरा प्लान,आलमगंज वाली गर्लफ्रेंड ने भी बहुत कुछ किया मैनेज

पटना : 5 करोड़ के सोना लूटकांड का सरगना रवि गुप्ता और पापिया का हत्यारा आशीष पुलिस के चंगुल से फुर्र हो गए हैं. ऐसी चर्चा है कि दोनों अपराधियों ने सिविल कोर्ट से फरारी का बहुत पहले ही बना लिया था.

जेल अस्पताल में रची गई पूरी साजिश
पंचवटी रत्नालय में 5 करोड़ के सोना लूटकांड का सरगना रवि और प्रो. पापिया के हत्यारे आशीष राय ने जेल अस्पतला में फरारी की पूरी प्लानिंग तैयार कर ली थी. दोनों पिछले 10 दिनों से पूरा प्लान सेट कर रहे थे. बताया जाता है कि कुछ दिनों पहले जेल गेट पर रवि से मिलने उसके कुछ लोग आए थे. माना जा रहा है कि रवि ने उसी दिन अपने गुर्गों को कोर्ट से फरार होने का प्लान कोड वर्ड में बता दिया था.

दो गर्लफ्रेंड खोल सकती है सब राज
खबर के मुताबिक रवि गुप्ता की दो गर्लफेंड हैं, एक वैशाली की तो दूसरी आरमगंज थाना इलाके में रहती है. पुलिस को शक है कि वो इन दोनों के पास जाकर पनाह ले सकता है. पुलिस को शक यह भी है कि वो भाग कर वैशाली या छपरा में छिपने का ठिकाना बना सकता है.

Input – News4Nation

Leave a Reply

Your email address will not be published.