मुजफ्फरपुर में ड्रोन की मदद से होगा कचरा प्रबंधन

शहर के कचरे के सही प्रबंधन व रौतनिया में डंपिंग के लिए नगर निगम प्रशासन एक अनोखी पहल करने जा रहा है। रौतनिया डंपिंग स्थल पर सड़ रहे कचरे को ड्रोन कैमरे के जरिए देखा जाएगा। इसकी स्थिति देखकर मैनेजमेंट किया जाएगा। इसको लेकर बुधवार को निगम के इंजीनियरों के साथ नगर आयुक्त मनेश कुमार मीणा ने बैठक की। इसमें रौतनिया कूड़ा डंपिंग स्थल पर कचरा प्रबंधन को लेकर तीन घंटे तक समीक्षा की। नगर आयुक्त ने बताया कि एजेंसी विशेष सॉफ्टवेयर के जरिए डंपिंग स्थल का ड्रोन कैमरा से सर्वे करेगी। विशेष तरह का कैमरा बताएगा कि कचरे कितने पुराने हैं। फिर उसका प्रबंधन कर खाद बनाने व तेल बनाने का काम होगा। उन्होंने बताया कि कूड़ा डंपिंग स्थल के चारों तरफ दीवार खड़ी कर दी गई है। यू आकार की चहारदीवारी का निर्माण हो रहा है। इससे यह स्थल पूरी तरह से कवर हो जाएगा। आसपास के गांवों में कूड़े का दुर्गंध नहीं जाएगा। बैठक में अपर नगर आयुक्त विशाल आनंद ने अबतक किए गए प्रबंधन के बारे में बताया। 129 और हाथ ठेले की खरीदारी का भी फैसला लिया गया। यह भी फैसला लिया गया कि गीले कचरे का प्रबंधन किया जाए। इसे शहर में चार कचरा वेस्ट मैनेजमेंट स्थल परभेजा जाए। रौतनिया में सूखा कचरा ही भेजा जाए। Input – Hindustan

Leave a Reply

Your email address will not be published.