बिहार के बेटे के जिम्मे अयोध्या की कानून व्यवस्था।

मधुबनी। अयोध्या मामले में सर्वोच्च न्यायालय के फैसले की प्रतीक्षा पूरे देश को थी। मगर, इस फैसले की जिले के झंझारपुर को बेसब्री से प्रतीक्षा थी। दस बजते ही अनुमंडल क्षेत्र में लोग दूरदर्शन से चिपक गए थे। अयोध्या पूरे देश के केंद्र बिदु में था। मगर, यह कम लोगों को ही पता होगा कि अयोध्या की कानून व्यवस्था मिथिला के बेटे के हाथ में है। झंझारपुर की सिमरा पंचायत के मझौरा निवासी अनुज कुमार झा अयोध्या में जिलाधिकारी हैं।

सु्प्रीम कोर्ट के फैसले के बीच जागरण की टीम अनुज कुमार झा के पैतृक आवास पहुंची। पिता बद्री झा और उनकी माता इंदु देवी गांव में ही मिले। वे सुबह आठ बजे ही तैयार होकर भगवान के समक्ष प्रार्थना में तल्लीन हो गए। पूछने पर कहा, बेटे के कंधे पर अयोध्या में विधि व्यवस्था की बड़ी जवाबदेही है। अनुज की प्रशासनिक क्षमता पर पूरा भरोसा है। वे भगवान से यह प्रार्थना कर रहे हैं कि देश के निर्माण में उसकी महत्वपूर्ण भूमिका रहे। किसी तरह की कमी नहीं रहे। सभी वर्गों के लोगों में सद्भाव बना रहे। वे कोर्ट के फैसले का आदर करें। वे इस दौरान भावुक भी दिखे। इसी दौरान चैनलों पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने लगा। इसके बाद बद्री झा शांत भाव से ईश्वर के तस्वीर की ओर ही देख रहे थे। प्रार्थना कर रहे थे सब कुछ ठीक-ठाक रहे।

मालूम हो कि अनुज कुमार झा 2009 बैच के आईएएस अधिकारी हैं। बड़ा भाई पंकज झा शिक्षक, दूसरे नीरज झा सीबीआइ में अधिकारी, तीसरे भाई धीरज की पत्नी अंजना देवी सिमरा पंचायत की मुखिया, चौथे भाई सीआरपीएफ में डिप्टी कमांडेंट हैं। पिता हिदुस्तान स्टील व‌र्क्स बोकारो से सेवानिवृत्त हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *