बिहार के कृषि मंत्री सुधाकर सिंह का इस्‍तीफा, वजह भी बता दी; नीतीश कुमार और तेजस्‍वी यादव का लिया नाम

बिहार सरकार के कृषि मंत्री सुधाकर सिंह ने अपने पद से इस्‍तीफा दे दिया है। इसकी जानकारी उन्‍होंने खुद ही दी है। सुधाकर सिंह, राष्‍ट्रीय जनता दल के प्रदेश अध्‍यक्ष जगदानंद सिंह के बेटे और कैमूर जिले की रामगढ़ सीट से विधायक हैं। उन्‍होंने मंत्री पद संभालने के बाद अपने विभाग के अफसरों को चोर बताते हुए खुद को चोरों का सरदार कह दिया था

मिली जानकारी के अनुसार कृषि मंत्री सुधाकर सिंह ने मंत्री पद से इस्तीफे की पेशकश की है। उन्‍होंने उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को अपना इस्तीफा भेजा है। उन्‍होंने राजद के प्रदेश अध्‍यक्ष को भी अपने इस्‍तीफे की जानकारी दे दी है।

सरकार के लिए नहीं बनना चाहते थे समस्‍या
सुधाकर सिंह ने कहा कि वे सरकार के लिए समस्‍या नहीं बनना चाहते थे। हालांक‍ि उनके इस्‍तीफे पर कोई फैसला होना अभी बाकी है। राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने कहा कि सुधाकर सिंह ने किसानों के हित में दिया इस्तीफा। हम बात को आगे नहीं बढ़ाना चाहते थे। कृषि विभाग में भ्रष्‍टाचार का उठाया था मसला.

किसानों की समस्या और कृषि विभाग में फैले भ्रष्टाचार को लेकर कई बार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव और उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव का सुधाकर सिंह ने ध्यान आकृष्ट किया था। कैबिनेट की बैठक में भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ सुधाकर की नोकझोंक हुई थी। इससे पहले विधानसभा क्षेत्र रामगढ़ और कैमूर जिले में आयोजित जन सभा कई बार विभाग के भ्रष्टाचार को लेकर कृषि मंत्री सुधाकर सिंह ने चिंता जताई थी। अफसरों को भी चेताया था। कृषि सचिव एन सरवन को भी हटाने की मांग की थी।

महागठबंधन सरकार ज्यादा दिनों तक नहीं चलेगी : श्रवण अग्रवाल
इधर, राष्ट्रीय लोक जनशक्ति पार्टी के प्रवक्ता श्रवण अग्रवाल ने कहा कि राजद और जदयू के बीच मुख्यमंत्री की कुर्सी को लेकर जो खींचतान चल रही है। इससे साफ प्रतीत होता है कि महागठबंधन सरकार ज्यादा दिनों तक नहीं चलेगी। बिहार में विधानसभा का मध्यावधि चुनाव होने की प्रबल संभावना है। नीतीश कुमार किसी भी कीमत पर मुख्यमंत्री पद का त्याग नहीं करेंगे। अग्रवाल ने राज्य में बढ़ते अपराध पर ङ्क्षचता प्रकट करते हुए कहा कि अपराध चरम पर है। 20 लाख नौकरी और रोजगार देने का जो वायदा किया गया है उस पर काम करना चाहिए। प्रदेश में अब खुद सुरक्षित नहीं है पुलिस

लोजपा (रामविलास) ने बिहार की तेजी से गिरती कानून व्यवस्था पर सवाल उठाया है। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता राजेश भट्ट ने शनिवार को कहा कि इस महागठबंधन सरकार में जब पुलिस खुद सुरक्षित नहीं है तो वह भला जनता का कैसे सुरक्षा करेगी। अपराधियों में पुलिस का डर खत्म हो गया है। राजधानी से सटे बिहटा इलाके में जब बालू खनन को लेकर हुए गैंगवार में माफिया के घर पुलिस छापेमारी करने पहुंची थी। इस दौरान माफिया के परिजनों और उनके गुर्गों ने पुलिस पर फायङ्क्षरग की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.