बेगूसराय के बाद सीरियल शूटआउट हाजीपुर, कहीं वही गिरोह तो नहीं?

बेगूसराय में सीरियल फायरिंग की वारदात का अभी तक पटाक्षेप भी नहीं हुआ कि बिहार के वैशाली जिले के हाजीपुर में बेखौफ अपराधियों ने शूटआउट से दहशत पैदा करने की कोशिश की। रविवार की रात हाजीपुर के मड़ई रोड पर बाइक सवार बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग करके खलबली मचा दी। हालांकि, इस वारदात में किसी की मौत की खबर अभी तक नहीं मिली है। फायरिंग करते हुए बाइक सवार बदमाश राजेंद्र चौक की तरफ भाग निकले। वैशाली पुलिस इस घटना की जांच में जुट गई है।

हाजीपुर से मिली जानकारी के मुताबिक बाइक पर सवार दो बदमाश पासवान चौक की शहर में दाखिल हुए और चलती बाइक से फायरिंग शुरू कर दी। उनकी बाइक भागती रही और गोली चलाते हुए अपराधियों ने आधे किलोमीटर से ज्यादा का सफर तय किया। गोली की आवाज सुनकर इलाके में सनसनी फैल गई। सूचना मिलने पर नगर थाने की पुलिस ने गोली चलने और अपराधियों के भागने की सूचना में चेज किया। लेकिन, अभी तक कोई कोई सुराग नहीं मिल पाया है। पुलिस ने कई खाली खोखे भी बरामद किए हैं

अधूरी है बेगूसराय फायरिंग में पुलिस की कहानी, जवाब मांग रहे कई सवाल

इस मामले में हाजीपुर नगर थाना पुलिस के पदाधिकारी शैलेंद्र कुमार ने बताया कि बदमाशों ने हवाई फायरिंग की है। इसमें किसी व्यक्ति को टारगेट नहीं किया गया है। इलाके में सरकारी और निजी तौर पर लगाए गए सीसीटीवी कैमरे का फुटेज देखा जा रहा है। इससे अपराधियों की पहचान की जाएगी और उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा

बताते चलें कि पिछले दिनों 13 सितंबर की रात को बेगूसराय में बाइक सवार अपराधियों ने बछवारा से चकिया तक लगभग 30 किलोमीटर की दूरी तक सीरियल फायरिंग की। इस दौरान अपराधी आने जाने वाले राहगीरों को निशाना बनाते रहे। बेगूसराय की वारदात में 10 लोग लोग गोली लगने से जख्मी हो गए थे और चंदन कुमार नामक एक व्यक्ति की मौत भी हो गई थी। बेगूसराय की घटना पर राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति को लेकर जमकर राजनीति हुई। विपक्ष ने जहां इसे सरकार की विफलता करार दिया तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस पर जातिगत कार्ड खेला।


इस कांड में अभी तक 4 लोगों की गिरफ्तारी की जा चुकी है। लेकिन। सीसीटीवी में चिन्हित दो बदमाश अभी भी पुलिस की पकड़ से बाहर हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.