मदरसों को बम से उड़ा देना चाहिए…अलीगढ़ में बोले महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद

मदरसों में हो रही सर्वे को लेकर एक बार फिर से विवाद छिड़ गया है। अलीगढ़ पहुंचे श्री पंचदशनाम जूना अखाड़ा के महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद गिरि ने एक बार फिर विवादित बयानबाजी कर डाली। उन्होंने एएमयू का नाम लिए बगैर कहा, मदरसों की तरह ही इसका भी हश्र होगा। एक भागवत के समापन के मौके पर अलीगढ़ पहुंचे महामंडलेश्वर ने हिंदुओं से अपील करते हुए कहा, सभी त्यागी समाज के साथ आएं। उन्होंने कहा, देश में मदरसों पर आपत्ति जताते हुए कहा, मदरसे होने ही नहीं चाहिए, इन्हें तो बारूद से उड़ा देना चाहिए.

उन्होंने आगे कहा, मदरसों में हो विद्यार्थी रहते हैं उन्हें ऐसे शिविरों में भेज देना चाहिए जहां कुरान नाम का वायरल निकाला जा सके। भारत के विभाजन को लेकर महामंडलेश्वर ने मदरसे को इस्लाम का सबसे बड़ा गढ़ बताया। उन्होंने कहा, पूरी बिल्डिंग को ध्वस्त कर देना चाहिए। मदरसे में रहने वाले लोगों को डिटेंसन सेंटर भेजा जाना चाहिए। विवादित बयान वाले सवाल पर महामंडलेश्वर ने कहा, सच बोलते हैं तो मुकदमे लगते हैं, हो सकता है आज भी कोई मुकदमा दर्ज हो जाए। उन्होंने अपने लिए कभी कुछ नहीं कहा। वह हमेशा जनता के लिए सरकार से मदद मांगते हैं।

ज्ञानवापी मस्जिद को लेकिर महामंडलेश्वर बोले, हिन्दू समाज जाग्रत हुआ है। अकेले ज्ञानवापी का क्या होगा, मक्केश्वर महादेव के लिए लोगों को मेहनत करनी चाहिए। उन्होंने कहा, जहां भी मंदिर तोड़कर मस्जिद बनाए गए हैं वह सारे हमारे पास वापस आना चाहिए। वह बोले-अपने धर्म के लिए लड़ाई लड़ते रहेंगे और लड़ते हुए मारे जाएंगे। लखीमपुर खीरी में दो बहनों के शव मिलने को महामंडलेश्वर ने जिहाद बताया। उन्होंने कहा, मां-बहन की बेटियों को ये लोग शिकार बना रहे हैं। अगर अभी से इस पर लगाम नहीं लगी तो एक दिन हर हिंदू बेटी के साथ ऐसा होगा।

गांधीजी पर टिप्पणी करने पर यति नरसिंहानंद पर दर्ज हो चुका है केस

श्री पंचदशनाम जूना अखाड़ा के महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद ने अब राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को लेकर बेहद आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। यति ने गांधी जी को हजारों हिंदुओं का कातिल बता डाला और कई अपशब्द कहे थे। वीडियो वायरल होने के बाद गाजियाबाद के मसूरी थाने में पुलिस ने यति के खिलाफ केस दर्ज कर लिया था। यति नरसिंहानंद पहले भी अपने भड़काऊ और आपत्तिजनक बयानबाजी को लेकर अक्सर सुर्खियों में रहते हैं। हाल ही में उन्हें जेल भी भेजा जा चुका है। सोशल मीडिया पर वायरल हुई वीडियो पर संज्ञान लेते हुए मसूरी पुलिस ने यति नरसिंहानंद के खिलाफ धार्मिक भावनाएं भड़काने का केस दर्ज किया है। मसूरी पुलिस के मुताबिक ट्विटर पर दो मिनट 20 सेकेंड की एक वीडियो डाली गई। इसमें डासना देवी मंदिर के महंत और श्री पंचदशनाम जूना अखाड़ा के महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद गिरि ने राष्ट्र पिता महात्मा गांधी पर टिप्पणी की है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.