6 साल की उम्र से गा रही, भजन गायकी में बनाई पहचान

सोनू मुस्कान, शहर का वो नाम जिसके भजन सुन कर आप मस्ती में झूमेंगे।
10 हजार से अधिक मंचों पर अपने आवाज का जादू बिखेर चुकी शहर की इस बेटी का जन्म 30 नवंबर 1989 को हुआ। सोनू के पिताजी पंजाब नेशनल बैंक मैं कार्यरत थे। तीनों बहनों में सोनू सबसे छोटी है। मां हाउसवाइफ है।

6 साल की उम्र से सोनू ने गायन शुरू किया। लगभग 300 से ऊपर एल्बम में अपनी आवाज दी, छोटे-मोटे शॉर्ट मूवीस में भी अपनी आवाज दी है।
अनुराधा पौडवाल, अनूप जलोटा, विपिन सचदेवा, लखबीर सिंह लक्खा जी, सोनू कक्कड़, कविता पौडवाल, कुमार सानू, अल्ताफ राजा, मनोज तिवारी, कल्पना, देवी, पवन सिंह भरत शर्मा व्यास, तृप्ति शाक्य, जैसे कलाकारों के साथ कई बार मंच पर एक साथ प्रस्तुति दे चुकी है सोनू मुस्कान।

गायन क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य के लिए कई पुरस्कारों से भी सम्मानित किया गया, जिसमें से प्रमुख है- भिखारी ठाकुर सम्मान, दैनिक जागरण बिहार की नंबर वन गायिका, कला श्री महोत्सव, बिहार दिवस, कला संस्कृति युवा विभाग एवं अन्य संस्थाओं के द्वारा सम्मानित किया गया। जंतु विज्ञान से स्नाकोत्तर एवं संगीत से भास्कर कर चुकी हैं सोनू मुस्कान।

मुजफ्फरपुर में अखाड़ा घाट स्थित अपने आवास पर मेलोडियस म्यूजिक इंस्टीट्यूट के माध्यम से संगीत की शिक्षा का भी प्रचार प्रसार कर रही है। अपने आवास पर ही साईं बाबा का मंदिर बनवाया है जहां दूर दूर से भक्त आते हैं। बिहार के बाहर अन्य राज्य जैसे दिल्ली, कोलकाता, आसाम, बंगाल, बेंगलुरु मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ के साथ साथ विदेशों में नेपाल बांग्लादेश मॉरीशस में जाकर भी अपनी प्रस्तुति दे चुकी है। आगे भी गायन क्षेत्र में आगे बढ़ना चाहती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.